डाइट प्लान

दाल खाने के फायदे

Benefits of eating pulses in hindi.

daal-khane-ke-fayde

भारत में ऐसे बहुत कम ही घर होंगे, जहां दाल नहीं खाया जाता हो। क्या हो अमीर, क्या हो गरीब दाल एक ऐसा व्यंजन है जो हर किसी के घर में बनता है। यह न केवल स्वाद से भरपूर होता है बल्कि इसे खाने से शरीर को उर्जा मिलती है। भारत में लोग दाल को एक पौष्टिक सूप की तरह देखते हैं इसलिए दिन में कम से कम एक बार दाल का जरूर सेवन करते हैं। वैसे सूप के अलावा इसे लोग रोटी और चावल के साथ ज्यादा खाते हैं।

यही नहीं, कई घरों में शुरुआती दिनों में माता शिशु को दाल का सेवन कराती हैं। इसमें न केवल प्रोटीन बल्कि आयरन और फाइबर भी प्रचुर मात्रा में पाया जाता है। दालों को भोजन के तौर पर उपयोग में लाने पर पाचन क्रिया सही रहती है। इसके साथ ही कोलेस्ट्राल की मात्रा संतुलित रहती है। वहीं बल्ड शुगर भी नियंत्रित रहता है तथा अगर आप डायट पर हैं तो भी आप दाल खाकर अपना वजन भी घटा सकते हैं।

अब आप समझ गए होंगे कि दाल को खाने के लिए हमारे माता-पिता या बड़े बुजुर्ग क्यों जोर देते हैं। आइए जानते हैं दाल खाने के फायदे…

दाल खाने के फायदे

देसी एनर्जी बूस्टर
खुद को उर्जावान रखने के लिए व्यक्ति बाजार से कई सारे उत्पाद लाता है, लेकिन क्या आपको पता है कि दाल भी एक एनर्जी बूस्टर का काम करता है। इसमें मौजूद फाइबर और आयरन शरीर की ऊर्जा के साथ-साथ रोग प्रतिरोधक की क्षमता को बढ़ाती है।

दिल की बीमारी में लाभदायक
इस दौड़ती-भागती जिंदगी में दिल को स्वस्थ्य रखना बहुत ही जरूरी है। इसके लिए नियमित रूप से पौष्टिक भोजन लेते रहना चाहिए। दाल उन्हीं पौष्टिक खाद्य पदार्थों में से एक है। फाइबर और मैगनीशियम होने की वजह से दाल ह्र्दय रोग से बचाता है तथा इससे खून का फ्लो भी बना रहता है।

पाचन क्रिया को सही करता है
पेट में गैस, अपच, कब्ज या फिर सीने में जलन की शिकायत होना सब खराब पाचन क्रिया के लक्षण हैं, इसलिए जिन लोगों को दाल पसंद नहीं है उन्हें अब खाना शुरू कर देना चाहिए। क्योंकि यह खराब पाचन क्रिया को दुरुस्त करने का काम करता है। इसमें घुलनशील रेशे होते हैं जो कब्जु की बीमारी को दूर भगाता है।

फैट को करता है कम
प्रोटीन, फाइबर, मिनरल और विटामिन से भरपूर दाल शरीर के बढ़ते चर्बी पर लगाम लगाता। दरअसल दाल में फैट नहीं होता, इसलिए इसे ज्यादा भी खाते हैं तो आपको नुकसान नहीं करेगा।

कोलेस्ट्रॉल को करता है कम
बदलती जीवनशैली की वजह से हम खान पान पर ध्यान ही नहीं दे पाते और शरीर में कोलेस्ट्रोल की मात्रा बढ़ जाती है। ऐसे में आपको दाल का सेवन करना चाहिए। इसमें मौजूद घुलनशील रेशे ब्लड कोलेस्ट्रोल को कम करने में मदद करते हैं।

प्रोटीन का स्रोत
दाल जिस चीज के लिए सबसे ज्यादा जाना जाता है वह है प्रोटीन। कई बार लोग प्रोटीन को दाल से जोड़कर भी देखते हैं। इसलिए अगर कहें कि दाल प्रोटीन का सबसे बड़ा स्रोत है तो इसमें कोई अतिशयोक्ति नहीं होगी। इसलिए प्रोटीन चाहिए तो दाल का सेवन कीजिए।

Health and Beauty tips in Hindi अब पाएं यूट्यूब पर - और हमारे साथ फेसबुक पेज , ट्विटर हैंडल और गूगल प्लस पर जुड़ें