हेल्थ टिप्स हिन्दी

जौ खाने के फायदे

अपनी लाइफ में जौ का उपयोग करना शुरू कर दीजिए, जौ का पानी के फायदे तो होते ही हैं, अब जानते हैं जौ के फायदों के बारे में।

यदि कोई उच्च रक्तचाप, गठिया, अस्थमा, त्वचा की समस्याएं, एनीमिया, मोटापे, कब्ज, मधुमेह, किडनी की समस्या या हृदय रोग जैसे चिकित्सा स्थितियों से पीड़ित हैं, तो जौ आपके लिए फायदेमंद हो सकता है। आइए जानते हैं इसके फायदों के बारे में…

जौ खाने के फायदे

आंत को रखता है स्वस्थ

 

जौ, फाइबर का एक उत्कृष्ट स्रोत है, जो आपके शरीर को विष-मुक्त रखता है। यह हमारे बड़े आंत में अनुकूल जीवाणुओं के लिए ईंधन स्रोत के रूप में कार्य करता है। यह स्वस्थ कोलोन को बनाए रखने में यह बहुत प्रभावी है। यह मल त्याग में आपकी मदद करता है और अपका पेट साफ रखता है। यह कोलोन कैंसर और बवासीर की संभावना को बहुत कम कर देता है।

रक्तचाप और कोलेस्ट्रॉल को कम करता है जौ

रक्तचाप और कोलेस्ट्रॉल को कम करता है जौ

जौ की नियमित सेवन से आपके रक्तचाप को स्थिर करने और आपके रक्त में उच्च कोलेस्ट्रॉल के स्तर को कम करने में मदद कर सकता है। जौ घुलनशील फाइबर में समृद्ध है, इस तरह से रक्त में एलडीएल को कम करने में सहायक होता है। यह घुलनशील या अघुलनशील फाइबर उच्च रक्तचाप को कम करने और स्वस्थ वजन को बनाए रखने में मदद करता है।

 

ट्राइग्लिसराइड्स के स्तर को कम करे जौ

चूंकि यह अघुलनशील फाइबर में समृद्ध है, इसलिए यह वास्तव में पित्त एसिड स्राव को कम करने में मदद करता है, जिससे इंसुलिन की संवेदनशीलता बढ़ती है और ट्राइग्लिसराइड्स के स्तर को कम किया जाता है।

हड्डियों के स्वास्थ्य के लिए अच्छा है जौ

हड्डियों के स्वास्थ्य के लिए अच्छा है जौ

फास्फोरस और तांबे से भरपूर जौ हड्डियों की एक समग्र स्वास्थ्य की गारंटी देता है। यदि आप ऑस्टियोपोरोसिस से पीड़ित हैं, तो यह आपके लिए प्राकृतिक उपाय हो सकता है। यह अधिक कैल्शियम सामग्री के लिए जाना जाता है। कैल्शियम, जैसा कि हम जानते हैं, हड्डियों के स्वास्थ्य की रक्षा करने में प्रमुख घटक हैं। इसके अलावा जौ में घुलनशील फाइबर होते हैं, जो शरीर को पोषक तत्वों को बेहतर अवशोषित करने और जोड़ों या गठिया की सूजन और सूजन से संबंधित किसी भी दर्द को कम करने में मदद करता है।

इम्यून सिस्टम को सही करे जौ

अत्यधिक पौष्टिक होने के कारण, जौ आपकी इम्यून सिस्टम को मजबूत करता है और ठंड और फ्लू की संभावना कम करता है आयरन रक्त की मात्रा में सुधार करता है और एनीमिया और थकान को रोकता है। यह किडनी की कार्यप्रणाली और शरीर की कोशिकाओं के विकास में सहायता करता है। इसके अलावा, इसमें तांबा होता है, जो हीमोग्लोबिन और लाल रक्त कोशिकाएं बनाता है। जौ में बीटा-ग्लुकॉन होता है, एक प्रकार का फाइबर जो एंटीऑक्सिडेंट में समृद्ध होता है। इसमें विटामिन सी की एक समृद्ध राशि भी है, जो एक पोषक तत्व है जो इम्यून सिस्टम को बढ़ावा देने के लिए जाना जाता है। नियमित रूप से जौ का सेवन करने से घाव भरने में तेजी लाने में मदद मिलती है और शरीर को सर्दी और फ्लू से लड़ने में सहायता मिलती है।

त्वचा के लिए फायदेमंद है जौ

जौ सेलेनियम का एक अच्छा स्रोत है, जो त्वचा को संरक्षित करने में मदद करता है। यह त्वचा को फ्री रेडिकल्स और ढीली पड़ने से बचाता है। इसके अलावा, यह हमारे दिल, अग्न्याशय, और इम्यून सिस्टम के कामकाज में सुधार भी करता है। सेलेनियम की कमी से कोलोन, प्रोस्टेट, लिवर, पेट और स्तन के कैंसर हो सकते हैं।

आपके वजन को कम करे जौ

आपके वजन को कम करे जौ

जौ यह फाइबर और प्रोटीन में भी समृद्ध है तथा वसा, कोलेस्ट्रोल और शुगर सामग्री में बहुत कम है। इन गुणों की वजह से जौ वजन घटाने में बहुत ही मदद करता है। जौ की सबसे महत्वपूर्ण संपत्ति यह है कि इसमें घुलनशील फाइबर होता है, जो आंतों में जाता है और वसा और कोलेस्ट्रॉल को रक्त में अवशोषित होने से रोकता है। जौ का पानी पीने से कैलोरी बर्न करने का एक बहुत लोकप्रिय तरीका है। हर रोज़ मेटाबॉलिजम को बढ़ाने और अधिक कैलोरी को बर्न करने के लिए लगभग 2 से 3 गिलास जौ के पानी का सेवन किया जा सकता है।

डिसक्लेमर : Sehatgyan.com में जानकारी देने का हर तरह से वास्तविकता का संभावित प्रयास किया गया है। इसकी नैतिक जिम्मेदारी sehatgyan.com की नहीं है। sehatgyan.com में दी गई जानकारी पाठकों के ज्ञानवर्धन के लिए है। अतः हम आप से निवेदन करते हैं की किसी भी उपाय का प्रयोग करने से पहले अपने चिकित्सक से सलह लें। हमारा उद्देश्य आपको जागरूक करना है। आपका डाॅक्टर ही आपकी सेहत बेहतर जानता है इसलिए उसका कोई विकल्प नहीं है।