माइग्रेन

माइग्रेन का घरेलू उपचार – खाएं यह छह फूड

Migraine home remedies in hindi - food to eat

migraine

दौड़ती-भागती जिंदगी ने इंसान को बांध दिया है। आज लोगों के पास इतना वक्त नहीं है कि वह अपनी सेहत पर ध्यान दे सके। सुबह उठकर जल्दी ऑफिस जाना, रात को घर लेट आना यही लोगों की जीवनशैली बन गई है। व्यक्ति के पास लेश मात्र का समय नहीं है कि वह अपनी डाइट या अपनी सेहत के बारे में ख्याल रख पाएं।

बिगड़ती जीवनशैली की वजह से लोग बीमार होने लगते हैं। उन्हें अवसाद जैसी समस्या घर कर लेती है। यही नहीं, ऐसी लाइफ के साथ चलकर वह माइग्रेन जैसी समस्या को भी न्यौता देते हैं। आज दुनियाभर में माइग्रेन से पीड़ित मरीजों में इजाफा हो रहा है।

जब बेवजह सिर में दर्द होने लगे और दर्द बार-बार हो, तो उसे माइग्रेन कहते हैं। माइग्रेन को आम बोलचाल की भाषा में अधकपारी भी कहते हैं। अगर इसे जल्दी नहीं रोका गया तो इससे भयंकर बीमारी हो सकती है। उल्टी आना, चक्कर आना और थकान महसूस होना माइग्रेन के प्रमुख लक्षण हैं।

हाल ही में एक रिसर्च में पाया गया है कि माइग्रेन के शिकार लोग यदि अपने पार्टनर के साथ शारीरिक संबंध बनाते हैं तो उन्हें इस समस्या से निजात मिल सकता है।

हालांकि आप बेहतर डाइट और कुछ घरेलू उपाय अपनाकर भी इस बीमारी से निजात पा सकते हैं। नीचे कई तरह के फूड दिए गए है जिसे नियमित रूप से खाकर माइग्रेन को रोक सकते हैं।

1. दूध का सेवन
कैल्शिजयम, प्रोटीन, विटामिन और लैक्टिक एसिड से भरपूर दूध, माइग्रेन में बहुत ही फायदेमंद होता है। कई बार ऐसा होता है कि दिमाग की नसें सुस्त पड़ जाती हैं और माइग्रेन का दर्द शुरू हो जाता है, ऐसे में में दूध एनर्जी देने का काम करता है। बस यह ध्यान रखिए कि दूध फैट फ्री हो।

2. हरी पत्तेतदार सब्जिमयां
माइग्रेन के दर्द में मैग्नीशियम बहुत ही कारगर तरीके से काम करता है। इसके लिए आपको हरी पत्तेेदार सब्जिकयां खाना चाहिए। इसमें पर्याप्त मात्रा में मैग्नीशि‍यम पाया जाता है। हरी पत्ते।दार सब्जिेयों के अलावा आप अनाज, सी-फूड और गेंहूं में भी भरपूर मात्रा में मैग्नीशियम होता है।

3. कॉफी है फायदेमंद
अकसर देखा गया है कि सामान्य सी सिर दर्द में लोग चाय या कॉफी को पीना पसंद करते हैं। उसी तरह माइग्रेन में भी ये काफी मददगार है। माइग्रेन अटैक आने पर कॉफी पीने से राहत मिलती है।

4. रेड वाइन एक विकल्प
एक अध्ययन में पता चला है कि एक ग्लास रेड वाइन के सेवन से शरीर को एक घंटे के व्यायाम जितना फायदा पहुंचता है। इसके अलावा यह माइग्रेन के दर्द को दूर करने में मदद करता है।
5. ब्रॉकली भी खाएं
खुद को सेहतमंद रखना है तो नियमित रूप से ब्रॉकली खाइए। मैग्नीशि‍यम, फाइबर्स और विटामिन सी का बेहतरीन स्रोत ब्रॉकली से न केवल वजन नियंत्रण में रहता है बल्कि दिल की बीमारियों से लड़ने में भी मदद मिलती है। यही नहीं, यह माइग्रेन के दर्द में भी सहायक है।

2. मछली खाना भी रहेगा फायदेमंद
अपर आप मछली नहीं खाते तो खाना शुरू कर दें। मछली में ओमेगा 3 फैटी एसिड और विटामिन ई पाया जाता है। ये दोनों माइग्रेन के दर्द को नियंत्रित करने में मदद करते हैं।

उपरोक्त दिए गए फूड के अलावा माइग्रेन को दूर करने लिए आप व्यायाम करें, टाइम पर खाएं, सही खाएं और पूरी नींद लें।

Health and Beauty tips in Hindi अब पाएं यूट्यूब पर - और हमारे साथ फेसबुक पेज , ट्विटर हैंडल और गूगल प्लस पर जुड़ें