माइग्रेन

माइग्रेन में सिर दर्द दूर करने के 8 उपाय

Migraine headache home remedy in hindi

headache

माइग्रेन के साथ सर में दर्द होना एक आम बात है। सर दर्द बहुत कारणों से हो सकता है, और इस वजह से बहुत से लोग इसका रोज़ ही ट्रीटमेंट करवाते हैं । पर इसके इलाज के बहुत सारे घरेलू नुस्खे भी हैं जो माइग्रेन के दर्द या और किसी भी तरह के सर दर्द से राहत देते हैं। तो अब आइए देखते हैं कुछ इलाज……

1. लैवेंडर का तेल
लैवेंडर की खुशबू तो अच्छी होती ही है साथ ही यह सर दर्द और माइग्रेन के दर्द से आराम देने में लाभदायक साबित हुआ है । इसे आप सांस लेकर या अपने ऊपर मलकर इस्तेमाल कर सकते हैं। सर दर्द से आराम पाने के लिए हर 2-4 बूँद तेल के लिए 2-3 कप उबलते हुए पानी को एक बर्तन में लें और इसकी भाप को सांस से अंदर लें। तेल की भाप से सर दर्द में आराम मिलेगा। बस इस बात का ध्यान रहे कि आप इस तेल को अपने मुंह से अंदर न लें।

2. पेपरमिंट का तेल
यह एक आरामदायक घरेलू नुस्खा है जिससे चिंता से होने वाले सर दर्द में लाभ मिलता है। इस ताज़ी खुशबू वाले तेल में वास्को-कंस्ट्रिक्टिंग और वास्को -डाईलेटिंग गुण होते हैं जो, खून के बहाव को सही रखने में मदद करते हैं। माइग्रेन और सर दर्द, खून का बहाव सही ना होने की वजह से भी होता है इसलिए पेपरमिंट तेल का इस्तेमाल किया जाता है । यह तेल साइनस से भी आराम प्रदान करता है।

3. बेसिल का तेल
बेसिल बहुत ही तेज़ खुशबू वाली जड़ी बूटी है इसे पिज़्ज़ा और पास्ता में भी इस्तेमाल किया जाता है, तो आप समझ गए होंगे कि इसकी खुशबू और स्वाद अच्छा है। जिन लोगों को सर दर्द से छुटकारा चाहिए उनके लिए बेसिल के पौधे से निकला हुआ तेल बहुत ही कमाल का इलाज है। बेसिल का काम होता है मांसपेशियों को आराम देना, तो इसलिए टेंशन और अकड़ी हुई मांसपेशियों के दर्द मिटाने में यह कारगर है।

4. डाइट को बदलना होगा
एक सबसे ज़रूरी काम जो आपके माइग्रेन के दर्द को कम करेगा वह है आपकी डाइट। कुछ खाने वाली चीज़े ऐसी होती है जिन्हें ज़्यादा खाने से आपका सर दर्द बढ़ सकता है, जैसे कि डेरी; चॉकलेट; पीनट बटर; कुच्छ फल जैसे कि अवोकेडो, केला, और साइट्रस; प्याज़; बेकन और हॉट डॉग जैसे मीट; खाना जिसमें एम् एस जी हो; रेड वाइन में मिलने वाला एमिनो एसिड आदि। इन सभी खानों का ध्यान रखे और ध्यान दें कि किसके ज़्यादा खाने से आपका माइग्रेन का दर्द बढ़ जाता है।

5. खुद अपने सर की मसाज
अपने सर की खुद मसाज करना एक असरदार तरीका है जो आपका माइग्रेन का दर्द काफी हद तक कम कर सकता है और इन्हें करने में मज़ा भी आता है। एक्सपर्ट्स का कहना है कि हमारी खोपड़ी के पीछे के निचले हिस्से की मसाज करने से माइग्रेन का दर्द कम होता है।

6. फीवरफियू
फीवरफियू , इसे इस्तेमाल किया जाता है आपके फीवर (बुखार ) को भगाने के लिए। इसे हर्बल हैडेक ट्रीटमेंट भी कहते हैं। यह इलाज 1980 के दशक में बहुत ही प्रचलित हुआ था। तो इसके बारे में पढ़ने पर पता चला की 70 प्रतिशत लोगों को माइग्रेन की समस्या कम हो गयी जिन्होंने फीवरफियू का रोज़ इस्तेमाल किया ।

7. फ्लैक्स सीड्स (अलसी के बीज)
कुछ सर दर्द सूजन के कारण होते हैं , जिन्हें हम कम कर सकते है ओमेगा-3 फैटी एसिड का सेवन करके। फ्लैक्स सीड सर दर्द से इसलिये आराम देते हैं क्योंकि इसमें ओमेगा-3 फैटी एसिड्स होते हैं। अलसी के बीजों को हम काफी तरीको से इस्तेमाल कर सकते हैं।

8.बकव्हीट
बकव्हीट एक तरह का अनाज होता है। इसके अंदर फ्लेवोनॉयड नामक पदार्थ होता है जिसे रूटिन भी कहा जाता है। यह पदार्थ हमारे सर दर्द और माइग्रेन के दर्द को मात देने में कारगर होता है। यह खासकर पौधों में ही मिलता है और हमारे सेल्स को ठीक करने की क्षमता भी रखता है। ताइवान के एक्सपर्ट्स ने इसे फ्लैवोनॉइड्स को सूजन पर इस्तेमाल करके देखा है जो सर दर्द का मुख्य कारण होता है।

sehatgyan youtube subscribe