घरेलू नुस्खे - घरेलू उपचार

कमजोर हड्डियों की सुरक्षा के लिए घरेलू उपाय

कमजोर हड्डियों की सुरक्षा के लिए घरेलू उपाय

हड्डियां शरीर के विभिन्न अंगों को सपोर्ट और रक्षा करती हैं तथा लाल और सफेद रक्त कोशिकाओं का उत्पादन करती हैं। यह शरीर के लिए संरचना और सपोर्ट प्रदान करते हैं, और गतिशीलता को सक्षम करते हैं। आइए कमजोर हड्डियों की सुरक्षा के लिए घरेलू उपाय के बारे में जानते हैं।

रेंड़ी का तेल

अरंडी रेंडी का तेल बहुत सारे गुणों के लिए जाना जाता है फिर वो फ़ायदा बालों के लिए हो, हमारे बॉडी के लिए हो या फिर हमारी त्वचा को सेहतमंद बनाने के लिए हो, इसके तेल से आप जैसा चाहे फायदा ले सकते है। रेंड़ी का तेल के एंटी-इंफ्लेमेटरी और एंटी-इफ्लेमेटरी गुणों के कारण त्वचा की समस्याओं, कब्ज, संक्रमण इत्यादि जैसे कई स्वास्थ्य समस्याओं के इलाज के लिए उपयोग किया जाता है।

बहुत कम लोग जानते हैं कि रेंड़ी का तेल हड्डी फ्रैक्चर और गठिया जैसी अन्य हड्डी से संबंधित समस्याओं में भी मदद करता है। हड्डी फ्रैक्चर के मामले में, रेंड़ी के तेल में कॉटन बॉल डुबोएं और इसे दो दिनों तक लगाएं। आप प्रतिदिन कैस्टर ऑयल पैक का भी उपयोग कर सकते हैं।

हड्डियों को सुरक्षा दे हल्दी

हड्डियों को सुरक्षा दे हल्दी

हल्दी एक स्वस्थ्य अनुकूल घटक है, और हम सभी इसके स्वास्थ्य लाभों की लंबी सूची के बारे में जानते हैं। अपनी डाइट में हल्दी को जरूर शामिल कीजिए। यह हड्डी के फ्रैक्चर को ठीक करने के लिए सबसे अच्छे प्राकृतिक उपचारों में से एक है, हल्दी में एंटी-इंफ्लेमेटरी और एंटीसेप्टिक गुण पाए जाते हैं जो हड्डी फ्रैक्चर के उपचार में सहायता करता हैं।

आप हल्दी को अपने खाने में प्रयोग में ला सकते हैं। आम तौर पर सर्दी होने या शा‍रीरिक पीड़ा होने पर घरेलू इलाज के रूप में हल्दी दूध का उपयोग किया जाता है। इसके अलावा हल्दी और प्याज का पेस्ट भी आपके लिए बहुत ही गुणकारी है।

तिल के बीज

तिल के बीज

मोनो-सैचुरेटेड फैटी एसिड से भरपूर तिल शरीर से कोलेस्ट्रोल को कम करता है। दिल से जुड़ी बीमारियों के लिए भी यह बेहद लाभकारी है। तिल के बीज का सेवन हड्डियों के फ्रैक्चर के इलाज में मदद करती है, क्योंकि उनमें कैल्शियम, मैग्नीशियम इत्यादि जैसे कुछ पोषक तत्व पाए जाते हैं, जो न केवल हड्डियों को मजबूत करता है और फ्रैक्चर को तेजी से ठीक करने में सहायता करता है।

हड्डियों की सुरक्षा के लिए अनानास

हड्डियों की सुरक्षा के लिए अनानास

अनानास अपने विशिष्ट गुणों के लिए जाना जाता है। यह न केवल आपके आंखों के लिए सही है बल्कि इम्यून सिस्टम को बढ़ाने का भी काम करता है। कमजोर हड्डियों की सुरक्षा के लिए घरेलू उपाय में अनानास भी शामिल है।

ब्रोमेलैन एंजाइम अनानास में पाया जाता है जो हड्डी फ्रैक्चर के इलाज में काफी काम करता है। यदि आप हड्डियों के फ्रैक्चर से पीड़ित हैं, तो अनानस रोजाना खाएं या इसे रस के रूप में लें। ध्यान दीजिए कि आप डिब्बाबंद या संसाधित अनानस से बचें और इसके बजाय ताजा अनानस लें। अनानास उपलब्ध नहीं होने पर आप ब्रोमेलैन का सप्लीमेंट भी ले सकते हैं।

काला जीरा

जिंक, आयरन, फास्फोरस इत्यादि जैसे महत्वपूर्ण पोषक तत्व की उपस्थिति के कारण काले जीरा के बीज में औषधीय गुण पाए जाते हैं जो हड्डी के स्वास्थ्य के लिए अच्छे होते हैं।

काले जीरा के बीज के तेल से फ्रैक्चर वाली जगह पर दो सप्ताह के लिए दिन में 2-3 बार मालिश करें। यह हड्डी फ्रैक्चर के इलाज में मदद मिलती है।

डिसक्लेमर : Sehatgyan.com में जानकारी देने का हर तरह से वास्तविकता का संभावित प्रयास किया गया है। इसकी नैतिक जिम्मेदारी sehatgyan.com की नहीं है। sehatgyan.com में दी गई जानकारी पाठकों के ज्ञानवर्धन के लिए है। अतः हम आप से निवेदन करते हैं की किसी भी उपाय का प्रयोग करने से पहले अपने चिकित्सक से सलह लें। हमारा उद्देश्य आपको जागरूक करना है। आपका डाॅक्टर ही आपकी सेहत बेहतर जानता है इसलिए उसका कोई विकल्प नहीं है।

1 Comment

  • Wonderful blog! Do you have any suggestions for aspiring writers?
    I’m hoping to start my own website soon but I’m
    a little lost on everything. Would you advise starting with a free platform like WordPress or go for a paid option?
    There are so many choices out there that I’m totally overwhelmed
    .. Any recommendations? Bless you!
    +905323495077

Leave a Comment