घरेलू नुस्खे - घरेलू उपचार

पेट दर्द में परहेज – जाने क्या न खाएं

पेट दर्द में परहेज - जाने क्या न खाएं

जब पेट में दर्द होता तो पूरे शरीर को परेशानी होती है। वायरल गैस्ट्रोएन्टेराइटिस ग्रसित होने की स्थिति में पेट दर्द की दवा खाने के साथ कुछ ऐसे खाद्य पदार्थ का परहेज करें, जिससे आपको पेट दर्द से छुटकारा मिल सके। कॉफी और सोडा सहित कैफीनयुक्त पेय का सेवन नहीं किया जाना चाहिए। डेयरी उत्पाद पेट की परेशानी को बढ़ा सकते हैं, जिसकी वजह से आपको दस्त और उल्टी भी हो सकती है। इसके अलावा निकोटीन उत्पादों और मादक पेय दोनों से आप दूरी बनाकर रखें। आइए विस्तार से जानते हैं कि पेट दर्द में किन-किन खाद्य पदार्थ का परहेज करना चाहिए।

पेट दर्द में परहेज

पेट में जलन को बढ़ाए शराब

पेट में जलन को बढ़ाए शराब

शराब ऐसा पदार्थ हैं जो आपके पाचन तंत्र के अस्तर को परेशान कर सकते हैं। शराब या अल्कोहल गैस्ट्रिक अम्लता को बढ़ा सकता है। इसमें रसायन शामिल होते हैं जिन्हें मेटाबोलाइज करना कठिन होता है। इससे पेट में जलन होती है, और उन लोगों के लिए विशेष समस्या हो सकती है, जो पहले से ही लिवर की समस्या से ग्रसित हैं। लिवर की समस्या वाले लोगों को शराब पीना नहीं चाहिए और पेट की समस्याओं वाले व्यक्तियों को सलाह दी जाती है कि वह भी दूर रहें। शराब छुड़ाने के घरेलू नुस्खे

 पेट दर्द में न खाएं प्रोसेस्ड फूड

प्रसंस्कृत खाद्य आहार या प्रोसेस्ड फूड को स्वास्थ्य की दृष्टि से बहुत ही हानिकारक माना जाता है। यह मोटापा, उच्च रक्तचाप और टाइप 2 मधुमेह जैसी बीमारी को बढ़ावा देने लिए जिम्मेदार है। प्रोसेस्ड खाद्य पदार्थ में कई तरह के केमिकल्स मिलाए जाते हैं। इसलिए पेट दर्द की समस्या में इससे दूरी बनाकर रखनी चाहिए।

एसिड में उच्च खाद्य पदार्थ

एसिड में उच्च खाद्य पदार्थ पेट दर्द की वजह बनता है। यह आपके पेट में अधिक एसिड बनाता है और आपके पाचन तंत्र को परेशान करता है। टमाटर आधारित उत्पादों के साथ साइट्रस फल भी एसिड रिफ्लक्स का कारण बन सकते हैं। इसलिए इनका सीमित मात्रा में सेवन कीजिए।

पेट दर्द की समस्या बढ़ाए मसालेदार आहार

पेट दर्द की समस्या बढ़ाए मसालेदार आहार 

मसालेदार आहार के सेवन से व्यक्ति के पेट में गैस बनने कि वजह से जलन कि समस्या हो सकती है। यह पेट दर्द की समस्या का एक प्रमुख कारण है। मसाले आहार के रूप में स्वादिष्ट हो सकता है, लेकिन मिर्च में पाए जाने वाला एक कैप्सैसिन घटक, पेट की परत के लिए जलन पैदा कर सकता है, जिससे संवेदनशील पेट वाले लोगों के लिए दर्द हो सकता है।

वसा युक्त फूड

वसा युक्त फूड ज्यादा खाने से किसी का भी पेट खराब हो सकता है। इसके अलावा चिकना युक्त भोजन खाने के बाद पेट में दर्द हो सकता है। ये पाचन तंत्र प्रतिक्रियाओं को नुकसान पहुंचाते हैं। क्रीम, मीट और सॉफ्ट पनीर आदि इनसे दूरी बनाकर रखनी चाहिए। इन सभी खाद्य पदार्थों में वसा ज्यादा होता है और अगर आप अपने पेट से बीमार महसूस कर रहे हैं तो इन्हें परहेज कीजिए।

रिफाइंड शुगर

इसके अलावा जिन लोगों के पेट में दर्द है उन्हें रिफाइंड शुगर से दूरी बनाकर रखनी चाहिए। उन्हें सोडा या डेयरी उत्पादों को भी परहेज करना चाहिए।

पेट दर्द की बीमारी में परहेज करें चॉकलेट और कैफीन

पेट दर्द की बीमारी में परहेज करें चॉकलेट और कैफीन

पेट दर्द की समस्या बच्चों को बहुत ज्यादा होती है इसलिए कोशिश करें कि वह चॉकलेट और कैफीन का सेवन बहुत ही करें। कैफीन और चॉकलेट उन मुख्य कारणों में से एक है जिसकी वजह से पेट दर्द की समस्या बढ़ सकती है। कैफीन मल को ढीला कर सकता है, जिसकी वजह से दस्त की समस्या और बढ़ सकती है।

डिसक्लेमर : Sehatgyan.com में जानकारी देने का हर तरह से वास्तविकता का संभावित प्रयास किया गया है। इसकी नैतिक जिम्मेदारी sehatgyan.com की नहीं है। sehatgyan.com में दी गई जानकारी पाठकों के ज्ञानवर्धन के लिए है। अतः हम आप से निवेदन करते हैं की किसी भी उपाय का प्रयोग करने से पहले अपने चिकित्सक से सलह लें। हमारा उद्देश्य आपको जागरूक करना है। आपका डाॅक्टर ही आपकी सेहत बेहतर जानता है इसलिए उसका कोई विकल्प नहीं है।