घरेलू नुस्खे - घरेलू उपचार

सर्दी और फ्लू के घरेलू उपचार

ठण्ड और फ्लू के लक्षणों में असुविधा होती है, लेकिन इन्हे शरीर की प्राकृतिक उपचार केमिकल दवाइयों और घरेलु नुस्खों से ठीक किया जा सकता हैं। केमिकल दवाइयों के कभी कभी कुछ अन्य नुक्सान भी होते है, परन्तु वही कुछ प्राकृतिक औषधियां शरीर में उपचार को प्रभावी बनाती है। बंद नाक और गले के दर्द आदि के सर्दी और फ्लू के लक्षणों से बचने के कई प्राकृतिक घरेलु उपचार अच्छे होते हैं।
इसलिए आज हम आपको कुछ सरल और प्राकृतिक घरेलू उपचार बताएंगे जो आपकी रोग प्रतिरक्षा को बढ़ाने में मदद करते हैं, और आपके शरीर को स्वस्थ रखते हैं।

फ्लू वायरस से लड़े तुलसी

फ्लू वायरस से लड़े तुलसी

तुलसी में मौजूद एंटी-बैक्टीरियल और एंटी-वायरस तत्वों के कारण यह रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाती है। यह फ्लू वायरस से लड़ने में सहायक है। तुलसी के लाभ प्राप्त करने के लिए आप हर रोज इसकी कुछ धुली हुई पत्तियों की चाय व अन्य खाद्य पदार्थों में उपयोग करें।

ठंड और फ्लू के उपचार में गर्म पेय पिएं

कुछ गर्म पेय पीने से ठण्ड और जकड़न को कम करने में मदद मिलती है, जिससे नाक और गले को को भी आराम मिलता है। ठंड और फ्लू के उपचार में आप गर्म पानी में अदरक, तुलसी के पत्ते, इलायची अदि मिला कर एक औषधीय चाय भी बना सकते हैं, जो आपको गर्म रखता है। तुलसी और अदरक के एंटीऑक्सिडेंट्स और एंटीबैक्टीरियल गुण फ्लू और सर्दी से लड़ने का एक प्रभावी उपचार हैं।

सर्दी व फ्लू से बचने के लिए खट्टे फल

सर्दी व फ्लू से बचने के लिए खट्टे फल

आमतौर पर माना जाता है कि सर्दी व फ्लू से बचने का सबसे बेहतर तरीका खट्टे फल हैं। खट्टे फलों में विटामिन-C की भरपूर मात्रा होती है, जो कि फ्लू के लिए भी कारगर साबित होता है और शरीर के इम्यून सिस्टम को भी मजबूत बनाने में सहायक होता है। इसलिए फ्लू के समय अपने आहार में खट्टे फल जैसे नींबू, आंवला, अंगूर, संतरा आदि को शामिल करना सेहत के लिए बहुत ही लाभदायक होता है।

 

नाक के लिए खारा पानी

बंद नाक के लिए एक हल्का खारा पानी नाक को खोलने के लिए एक प्रभावी उपाय है और नाक से वायरस और बैक्टीरिया को बाहर निकालने में भी मदद करता है। उबले हुए पानी को गुनगुना कर लें और इसमें नमक का आधा चम्मच मिलाएं और इसकी नाक में 2 घंटे बाद कुछ बूंदें उपयोग करें, जोकि फ्लू और ठण्ड के लिए प्रभावी उपाय है।

गुनगुने पानी से गरारे करें

नमक और गुनगुने पानी का घोल ठण्ड और कीटाणुओं द्वारा गले में दर्द को कम करने में मदद करता है। इसके लिए पहले उबले या गुनगुने पानी के बर्तन में 2 चम्मच नमक मिला कर एक मिश्रण तैयार कर लें और इसके साथ एक दिन में तीन बार गरारे करें। यह घरेलू उपाय आपको गले के दर्द में आराम देगा।

आराम करो और गर्म रहें

आराम करो और गर्म रहें

सर्दी या फ्लू से लड़ते हुए कभी-कभी आपकी ऊर्जा कम हो जाती है, इसलिए डॉक्टर भी आपको कुछ आराम करने और गर्म रहने की सलाह देते हैं। आराम करने पर आपके शरीर की इम्यून सिस्टम काम करना शुरू कर देती है। इसका मतलब सर्दी या फ्लू से परहेज करना नहीं हैं, परन्तु यह एक प्राकृतिक तरीके से फ्लू और ठण्ड से बचने का सरल उपाय है।

योग

नियमित योग अभ्यास आपके एंडोक्राइनल, पाचन और रक्त सहित सभी शारीरिक प्रणालियों का बेहतर रूप से काम करना यह सुनिश्चित करता है। विभिन्न योग मुद्राओं में आपके शरीर की लिम्फेटिक प्रणाली को बहुत लाभ मिलता है, जो शरीर से विषैले पदार्थों को निकालने में मदद करती है। कुछ शुरुआती योग मुद्राओं जैसे, प्राणायाम और भुजंगसाना से मस्तिष्क और फेफड़ों को स्वस्थ रखने और साफ़ करने में मदद मिलती है। इसके अलावा योग और प्राणायाम चिंता, तनाव कम करने और रोग प्रतिरक्षा को बढ़ाने में आपकी मदद करता है।

डिसक्लेमर : Sehatgyan.com में जानकारी देने का हर तरह से वास्तविकता का संभावित प्रयास किया गया है। इसकी नैतिक जिम्मेदारी sehatgyan.com की नहीं है। sehatgyan.com में दी गई जानकारी पाठकों के ज्ञानवर्धन के लिए है। अतः हम आप से निवेदन करते हैं की किसी भी उपाय का प्रयोग करने से पहले अपने चिकित्सक से सलह लें। हमारा उद्देश्य आपको जागरूक करना है। आपका डाॅक्टर ही आपकी सेहत बेहतर जानता है इसलिए उसका कोई विकल्प नहीं है।