घरेलू नुस्खे - घरेलू उपचार

कब्ज को इस तरह से दूर करें

Constipation treatment home remedies in hindi

मलावरोध, मलबन्ध और कोष्ठबद्धता आदि नामो से जानी जाने वाली कब्ज एक ऐसी समस्या है जिससे अधिकतर लोग पीड़ित रहते हैं। इसकी वजह से आप पूरे दिन परेशान रहते हैं। इसे अंग्रेजी में कान्सटीपेशन कहते हैं। हाल ही में इस पर एक फिल्म भी बनाई गई जिसका नाम ‘पीकू’ था। इस फिल्म में महानायक अमिताभ बच्चन कब्ज की समस्या पीड़ित रहते हैं। ज्यादातर मधुमेह के रोगी इस समस्या से पीड़ित रहते हैं। कब्ज होने की स्थिति में मल बहुत कड़ा हो जाता है तथा मल निष्कासन की मात्रा कम हो जाती है या मलक्रिया में कठिनाई होती है। इसमें मल निष्कासन के समय अत्यधिक बल का प्रयोग करना पड़ता है।

कब्ज कोई बीमारी नहीं है, लेकिन इसके रहने पर दूसरे रोग पैदा हो जाते हैं। कब्ज होने पर आप खुद को तरोताजा महसूस नहीं कर पाते हैं। ज्यादा दिनों यह समस्या रहने पर पेट दर्द भी होने लगता है। अगर व्यक्ति दिन में एक बार सुबह-सुबह अच्छी तरह से मल नहीं त्यागता तो यह अस्वस्थता की निशानी है।

कब्ज के कारण 

शरीर में तरल पदार्थ की कमी और खान-पान में असावधानी बरतना ही कब्ज का कारण है। इसमें भोजन ठीक प्रकार से नहीं पचता है और पेट में शुष्क मल जमा होने लगता है।

चाय, कॉफी और तली हुई चीजों का ज्यादा सेवन करना, शरीर को ज्यादा आराम देने, अपर्याप्त भोजन, तेज बुखार की स्थिति,  ज्यादा तनाव लेना, भोजन में फाइबर, कैल्शियम और पोटैशियम की कमी, मल-त्याग की आदत की कमी,  शरीर में पानी कमी, ज्यादा उपवास करना, सही समय पर भोजन न करना, शारीरिक कसरत या बड़ी आंत में घाव या चोट, व्यायाम न करना, छिलके रहित भोजन करना, भोजन में रेशेदार पदार्थो की कमी और आंतों से संबंधित बीमारियां आदि से कब्ज की समस्या उत्पन्न होती है।

कब्ज के लक्षण 

बेचैनी, पेट में दर्द, सिर दर्द, जी मिचलाना, पेट में हवा भरना, भोजन से अरूचि, सुस्ती आदि कब्ज के लक्षण हैं। इसके अलावा कब्ज रोग से पीड़ित रोगी के पेट में गैस अधिक बनती है और जीभ सफेद तथा मटमैली हो जाती है। इसमें सिर तथा कमर में दर्द रहता है।

कब्ज के प्राकृतिक और घरेलू उपचार

1. थोडें से काले तिल कूटकर गुड के साथ सुबह-शाम सेवन करें।

2. रात में सोते समय दूध मुनक्के उबालकर पियें।

3. सुबह-शाम भोजन के बाद कम-से कम दो केले अवश्य खायें।

4. दो अजीर रात को पानी में भिगों दें और सुबह चबाकर खायें, ऊपर से पानी पी लें।

5. सबसे पुराना प्रयोग रात के तांबे के बर्तन में पानी भर कर रख लें। उसमें एक चुटकी नमक डालकर सुबह के समय सेवन करें। इससे कब्ज दूर हो जायेगा।

6. एक चम्मच आंवले का चूर्ण रात में पानी के साथ लें। आपको आराम मिलेगा।

7. रोजाना लहसुन खाने से कब्ज की शिकायत नहीं रहती है।

8. कब्ज के रोगी रोजाना त्रिफला चूर्ण का सेवन करे।

9. कब्ज होने पर पानी पीने की सलाह दी जाती है। इसमें यदि आप गर्म पानी पिये तो जल्दी लाभ होगा।

10. कब्ज होने की स्थिति में हरी सब्जियों और फलों जैसे पपीता, अंगूर, अमरूद, टमाटर, चुकंदर, अंजीर फल, पालक और किश्मिश को पानी में भिगोकर खाना चाहिए।

Health and Beauty tips in Hindi अब पाएं यूट्यूब पर - और हमारे साथ फेसबुक पेज , ट्विटर हैंडल और गूगल प्लस पर जुड़ें