हेल्थ टिप्स हिन्दी

खून की खराबी के लक्षण और कारण

खून की खराबी के लक्षण और कारण ताकि आप रह सकें स्वस्थ, jane khoon ki kharabi ke lakshan aur karan in hindi

रक्त की हमारे शरीर में अहम भूमिका होती है। रक्त हमारे शरीर में सभी तरह के पोषक तत्वों को पहुँचाने का काम करता है। इससे हमारे शरीर को सभी पोषक तत्वों के साथ-साथ जीवन मिलता है। ऐसे में यदि आपके खून में अपशिष्ट पदार्थ शामिल हो जाते हैं, तब आपके खून में खराबी आ जाती है। जिससे आपके सामने बहुत सी समस्याएँ पैदा हो जाती है जबकि आपको इन समस्याओं के बारे में पता नहीं चल पाता। लेकिन धीरे-धीरे करके इसके लक्षण आपको देखने को मिल जाते हैं। आज हम खून की खराबी के लक्षण और कारण के बारे में आपसे बात करेंगें। तो आइये जानते हैं खून की खराबी के लक्षण और कारण को विस्तार से-

खून की खराबी के लक्षण – Khoon ki kharabi ke lakshan

जब भी हमारे खून में किसी प्रकार के अपशिष्ट पदार्थ मिलकर हमारे खून को खराब कर देते हैं। तब इसका सबसे ज्यादा असर हमारी त्वचा पर देखने को मिलता है। हमारी त्वचा पर खराश, खुजली, चेहरे पर पिंपल्स फोड़े और फुंसियां भी इसी की देन होती है। ऐसे में अपनी बाहरी रोकथाम करने की बजाय पहले रक्त की अशुद्द्ता को समझ लिया जाएं तो यह आपके लिए बेहतर होगा। आइये जानते यह इसके लक्षणों के बारे-

• चेहरे पर फुंसियां और मुंहासे
• त्वचा पर दाने
• नजर में कमजोरी
• पीलिया, सिर दर्द, एलर्जी जैसी समस्याएं
• चेहरे पर झूरियां
• त्वचा पर खुलजी और जलन
• बाल झड़ना
• चिडचिडापन
• थकान आदि।

इनमें से यदि आपको कुछ लक्षण दिखाई दें तो इसका मुख्य कारण रक्त विकार होता है।

खून में खराबी होने के कारण – Khoon ki kharabi ke karan

खून में खराबी होने का अर्थ होता है खून में विषैले पदार्थो का घुल जाना। यह विषैले पदार्थ कई कारणों से हमारे शरीर में घुल जाते हैं। इसका मुख्य कारण है हमारा दूषित, विकार युक्त और बासी खान पान होता है। इसके मुख्य कारण कुछ इस प्रकार से होते हैं-

Khoon ki kharabi ke karan

• पर्याप्त नींद न लेना
• रात को देर से सोना और सुबह भी देर से उठना
• लिवर का सही तरीके के साथ काम न करना
• खराब और बासी आहार का सेवन
• तला भुना हुआ भोजन
• जंक फ़ूड
• पानी का सेवन कम करना
• तनाव
• हारमोंस में बदलाव
• मधुमेह
• मोटापा।

यदि इन विकारों को पहचान कर इन्हें जल्दी से दूर न किया जाएं तब यह घातक रूप लेकर भी सामने आ सकता है। इसलिए इसे जितनी जल्दी हो दूर कर लेना चाहिए।

डिसक्लेमर : Sehatgyan.com में जानकारी देने का हर तरह से वास्तविकता का संभावित प्रयास किया गया है। इसकी नैतिक जिम्मेदारी sehatgyan.com की नहीं है। sehatgyan.com में दी गई जानकारी पाठकों के ज्ञानवर्धन के लिए है। अतः हम आप से निवेदन करते हैं की किसी भी उपाय का प्रयोग करने से पहले अपने चिकित्सक से सलह लें। हमारा उद्देश्य आपको जागरूक करना है। आपका डाॅक्टर ही आपकी सेहत बेहतर जानता है इसलिए उसका कोई विकल्प नहीं है।